शहद सेवन करने के नियम

शहद कभी खराब नहीं होता . यह पका पकाया भोजन है और तुरंत ऊर्जा देने वाला है |



शहद लेते समय कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए |

– अमरुद , गाना , अंगूर और खट्टे फलों के साथ शहद अमृत के सामान है |

– चाय कॉफ़ी के साथ शहद ज़हर के सामान है |

– शहद को आग पर कभी ना तपाये |

– मांस -मछली के साथ शहद का सेवन ज़हर के सामान है |

– शहद में पानी या दूध बराबर मात्रा में हानि कारक है |


– चीनी के साथ शहद मिलाना अमृत मेंज़हर मिलाने के सामान है |

– एक साथ अधिक मात्रा में शहद लेनासेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है .दिन में २ या ३ बार एक चम्मच शहद लें |

– घी , तेल , मक्खन में शहद ज़हर के सामान है |

– शहद खाने से कोई परेशानी महसूस हो तो निम्बू का सेवन करें |

– समान मात्रा में घी और शहद ज़हर होता है |

– अलग अलग वृक्षों पर लगे छत्तों में प्राप्त शहद के अलग अलग औषधीय गुण होंगे . जैसे नीम पर लगा शहद आँखों के लिए , जामुन का डायबिटीज़ और सहजन का ह्रदय , वात और रक्तचाप के लिए अच्छा होता है |

– शीतकाल या बसंतऋतु में विकसित वनस्पति के रस में से बना हुआ शहद उत्तम होता है और गरमी या बरसात में एकत्रित किया हुआ शहद इतना अच्छा नही होता है। गांव या नगर में मुहल्लों में बने हुए शहद के छत्तों की तुलना में वनों में बनें हुए छत्तों का शहद अधिक उत्तम माना जाता है।

– शहद पैदा करनें वाली मधुमक्खियों के भेद के अनुसार वनस्पतियों की विविधता केकारण शहद के गुण, स्वाद और रंग मेंअंतर पड़ता है।

– शहद सेवन करने के बाद गरम पानी भी नहीं पीना चाहिए।

– मोटापा दूर करने के लिए गुनगुने पानी में और दुबलापन दूर करने के लिए गुनगुने दूध के साथ ले |

– अधिक धुप में शहद ना दे . गरमी से पीड़ित व्यक्ति को गरम ऋतु में दिया हुआ शहद जहर की तरह कार्य करता है।

– शहद को जिस चीज के साथ लिया जाये उसी तरह के असर शहद में दिखाई देते है। जैसे गर्म चीज के साथ लें तो- गर्म प्रभाव और ठंडी चीज के साथ लेने से ठंडा असर दिखाई देता है। इसलिए मौसम के अनुसार वस्तुएं शहद के साथ ले |

– ज्यादा मात्रा में शहद का सेवन करने से ज्यादा हानि होती है। इससे पेट में आमातिसार रोग पैदा हो जाता है और ज्यादा कष्ट देता है। इसका इलाज ज्यादा कठिन है। फिर भी यदि शहद के सेवन से कोई कठिनाई हो तो 1 ग्राम धनिया का चूर्ण सेवन करके ऊपर से बीस ग्राम अनार का सिरका पी लेना चाहिए।
-बच्चे बीस से पच्चीस ग्राम और बड़े चालीस से पचास ग्राम से अधिक शहद एक बार में न सेवन करें। लम्बे समय तक
अधिक मात्रा में शहद का सेवन न करें।

– चढ़ते हुए बुखार में दूध, घी, शहद का सेवन जहर के तरह है।

-यदि किसी व्यक्ति ने जहर या विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया हो उसे शहद खिलाने से जहर का प्रकोप एक-दम बढ़कर मौत तक हो सकती है।

Coconut Water:Nutrition Facts & Health Benefits

1. Reduce high blood pressure – Coconut water is high in potassium and some studies have reported that low levels of potassium has been linked to high blood pressure. Therefore, drinking coconut water regularly can help in regulating blood pressure. Similar recent studies also have found that coconut water can help raise HDL (good) cholesterol, which makes it an excellent natural treatment for maintaining good cardiovascular health.

2. Strengthen the Immune System – The lauric acid in Coconut water has antibacterial, antifungal, antimicrobial, and antiprotozoal properties, which help strengthen the body’s immune system against a variety of viruses and illness.

3. Keep Body Hydrated – Since coconut water is pack with all five of the same electrolytes that the body has, including potassium, magnesium, chloride, calcium and sodium. Altogether, play an important role in keeping the body hydrated during physical activities. Even the United Nations Food and Agriculture Organization (FAO) have fought for a patent in 2000 to promote coconut water as the next big sports drink.

 4. Helps Lose Weight – Coconut water is low in calories and 99% fat-free. A serving of coconut water has just 46 calories. So regular intake of coconut water can help shed unwanted pounds by increasing the metabolic rate.

 5. Aids in Digestion and Metabolism – Coconut water contains various bioactive enzymes such as acid phosphatase, catalase, dehydrogenase, diastase, peroxidase and RNA polymerases, which help to overcome the problem of digestion and metabolism. Drinking of coconut water on a regular basis has been shown effective in dealing abdomen discomfort.

 6. Improve Blood Circulation – Coconut water is also good source of fiber, vitamin C and protein which can help in improving blood circulation and heart rate.

7. Good for Pregnant Women – Coconut water is an efficient natural remedy for pregnant women who suffer from acidity, constipation and heartburn problems. It is also helps boost the levels of amniotic fluid, which plays a vital role in the overall wellness of the baby. With such great benefits, it is no wonder that coconut water is recommended for pregnant women.

8. Treats Urinary Infections – Coconut water is a natural diuretic which helps prevent urinary tract infections (UTI) as well as relieve the kidney stones problem.

9. Promotes Skin Health – Coconut water acts as a light moisturizer which also decreases excessive oil on the skin. This proves to be beneficial for smoothing the skin as well. It can be used directly to a bath or mix with liquid shower gel. This natural water is also best for treating acne and blackheads as well.

10. Increase Energy Levels – The lauric acid in coconut water stimulates the production of thyroid hormones, thereby increasing your metabolic rate, which in turn increase your energy level.

गरम पानी पीने के फायदे

सफाई और शुद्धी– यह शरीर को अंदर से साफ करता है। अगर आपका पाचन तंत्र सही नहीं रहता है, तो आपको दिन में दो बार गरम पानी पीना चाहिये। सुबह गरम पानी पीने से शरीर के सारे विशैले तत्‍व बाहर निकल जाते हैं, जिससे पूरा सिस्‍टम साफ हो जाता है। नींबू और शहद डालने से बड़ा फायदा होता है।

 

कब्‍ज दूर करे– शरीर में पानी की कमी हो जाने की वजह से कब्‍ज की समस्‍या पैदा हो जाती है। रोजाना एक ग्‍लास सुबह गरम पानी पीने से फूड पार्टिकल्‍स टूट जाएंगे और आसानी से मल बन निकल जाएंगे। 

मोटापा कम करे– सुबह के समय या फिर हर भोजन के बाद एक ग्‍लास गरम पानी में नींबू और शहद मिला कर पीने से चर्बी कम होती है। नींबू मे पेकटिन फाइबर होते हैं जो बार-बार भूख लगने से रोकते हैं।

सर्दी और जुखाम के लिये– अगर गले में दर्द या फिर टॉन्‍सिल हो गया हो, तो गरम पानी पीजिये। गरम पानी में हल्‍का सा सेंधा नमक मिला कर पीने से लाभ मिलता है।

खूब पसीना बहाए– जब भी आप कोई गरम चीज़ खाते या पीते हैं, तो बहुत पसीना निकलता है। ऐसा तब होता है जब शरीर का टम्‍परेचर बढ जाता है और पिया गया पानी उसे ठंडा करता है, तभी पसीना निकलता है। पसीने से त्‍वचा से नमक बाहर निकलता है और शरीर की अशुद्धी दूर होती है।

शरीर का दर्द दूर करे– मासकि शुरु होने के दिनो में पेट में दर्द होता है, तब गरम पानी में इलायची पाउडर डाल कर पिएं। इससे ना केवल मासिक का दर्द बल्कि शरीर, पेट और सिरदर्द भी सही हो जाता है।

ACIDITY: Effective & Popular Home Remedies

Acidity_AIM Wellness

Cloves
If you are suffering from gastritis, then clove acts as the wonder drug to get you rid of this sensation. Just chew say about two cloves and slightly bite them so that juices keep oozing out. Soon, the problem will vanish.

Cumin seeds
Take say about a teaspoon of cumin seeds and then roast them. After roasting, crush them in such a manner that they don’t become powder. Now, add this to a glass of water and have it with every meal you take. It does wonders.

Jaggery
Jaggery can help a lot in treating heartburn and acidity. Consume a small lump and allow it to get dissolved in your mouth to get relief from acidity. But, this remedy should not be tried by people who have diabetes.

Raita
Raita prepared with curd and added with ingredients like grated cucumber and coriander will surely aid in digestion and help eliminate acidity.

Basil leaves
Basil leaves are popular for their medicinal properties. Chewing say around 5-6 basil leaves relieves acidity to a lot of extent. One can also make a blend of crushed basil leaves and dried leaves which can be consumed with water or tea or simply be swallowed.

Butter-milk
A yet another simple and most easy homemade remedy to treat acidity is consuming buttermilk mixed with a little say about ½ teaspoon of black pepper powder.

Mint
It is also a good idea to drink fresh mint juice or chew raw mint leaves after meals everyday to keep acidity and indigestion away from you.

Ginger
Ginger is considered as a cure-all herb as it helps in treating so many different kinds of conditions. Consume just the right amount of ginger about half an hour before each meal and feel the difference.

Milk
Milk is a drink that consists of a large amount of calcium which helps in preventing build-up of stomach acid. So, drink a glass of milk after your meal to soothe your stomach after having a spicy meal.

Vanilla ice cream
Yes, gorging a cup of your favourite vanilla ice cream not just savours your sweet tooth but also helps combat gastritis. This is an easy home remedy to fight acidity.